भारतीय वायु सेना (IAF) द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट में एक आतंकवादी प्रशिक्षण शिविर पर किया गया हवाई हमला जिसका कोड-नाम ‘ऑपरेशन बंदर’ था। नाम की पसंद में कोई विशेष कारण नहीं था।

पुलवामा आतंकी हमले की प्रतिक्रिया के रूप में, जिसने 40 सुरक्षाकर्मियों के जीवन का दावा किया था, 12 आईएएफ मिराज -2000 फाइटर जेट ने 26 फरवरी को सुबह-सुबह पाकिस्तान के अंदर बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के ट्रेनिंग कैंप पर सटीक गाइडेड मूनशिप के जरिए हमला किया था।

Source: The Hindu

Relevant for GS Prelims