भारत के साथ ईरान भी पाकिस्तान की जमीन पर पनपने वाले आतंकी संगठनों से पीड़ित है। ईरान में पिछले हफ्ते किए गए आत्मघाती हमले को अंजाम देने वाला पाकिस्तानी नागरिक था। ईरान के विशेष सुरक्षा बल रिवोल्यूशनरी गार्डस पर हुए इस हमले में 27 जवानों की जान चली गई थी।

रिवोल्यूशनरी गार्डस के वरिष्ठ कमांडर ब्रिगेडियर जनरल मुहम्मद पाकपौर ने मंगलवार को इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस आत्मघाती हमले को अंजाम देने वाले के साथ इसकी साजिश रचने वाला भी पाकिस्तानी था। ईरान लगातार आरोप लगाता रहा है कि पाकिस्तान अपने सीमावर्ती इलाके में आतंकियों को पनाह दे रहा है। हालांकि यह पहला मौका है जब ईरान ने किसी आतंकी हमले में पाकिस्तानी नागरिकों की सीधी संलिप्तता की बात की है। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश अल अद्ल ने ली थी।