आतंकी संगठन आईएस के सरगना अबु बकर अल-बगदादी का पांच साल बाद पहली बार वीडियाे सामने आया। इससे उसके जिंदा हाेने की अटकलें शुरू हाे गई हैं। सोमवार को आईएस ने एक वीडियाे जारी किया, जिसमें बगदादी काे दिखाया गया। अभी साफ नहीं है कि यह वीडियो कब शूट किया गया। इसके अलावा कथित तौर पर आईएस सरगना का एक ऑडियो भी सामने आया है, जिसमें उसने 21 अप्रैल को श्रीलंका में हुए धमाकों को आईएस के आखिरी गढ़ बगाैज में मारे गए आतंकियों का बदला बताया है। इन धमाकों में 253 लोग मारे गए थे।

18 मिनट का यह वीडियो आईएस के अल फुकरान मीडिया नेटर्वक ने जारी किया, जिसे सोमवार को अलजजीरा चैनल ने भी प्रसारित किया। इसमें बगदादी घनी दाढ़ी में दिखाई दे रहा है और तीन लाेगाें काे संबाेधित कर रहा है, जिनके चेहरे साफ नहीं हैं। इसमें बगदादी ने सीरिया में आईएस के आखिरी गढ़ बगाैज में लड़ाई का जिक्र किया है। वीडियाे में बगदादी कहता है, यह लड़ाई अब खत्म हाे चुकी है। इसके बाद और लड़ाई आने वाली हैं, जो दुश्मन के खिलाफ कयामत तक जारी रहेंगी।

बगदादी ने 2014 में खुद को खलीफा घोषित किया था
बगदादी को आखिरी बार 2014 में एक मस्जिद में देखा गया था। तब भाषण देते हुए उसने खुद को ईराक और सीरिया का खलीफा घोषित किया था। ईराक-सीरिया में अमेरिका और उसकी सहयोगी सेनाओं ने आईएस के आतंकियों से लंबी लड़ई लड़ी। पिछले महीने अमेरिका सेना ने आईएस के आखिरी गढ़ बगाैज से आतंकियों के खात्मे का दावा किया था। संयुक्त सेना की कार्रवाई में कई बार बगदादी के मारे जाने की खबरें आई थीं।

(Adapted from The Bhaskar.com)